Shri Prabhat Times

कालोनाइजर व बिल्डरों से सावधान … एक दर्जन लोगों से 44 लाख़ लेकर ,रजिस्ट्री से इनकार करने वाले बिल्डर पर मामला दर्ज

 श्री प्रभात टाइम्स 14 मार्च 2021 होशंगाबाद 

रोटी कपड़ा और मकान हर इंसान की आवश्यकता है और इस आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए इंसान अपनी पूरी मेहनत खून पसीने से कमाए हुए धन से एक मकान बनाने का सपना देखता है लेकिन दुख जब होता है जब अपने गाने पसीने की कमाई को किसी बेईमान बिल्डर के हाथ में दे देता है ऐसा ही एक वाक्य हाल में ही सामने आया है जो कि होशंगाबाद के मालाखेड़ी स्थित गोल्डन सिलिकॉन सिटी में रहने वाले अखिलेश सक्सेना नामक युवक ने खुद को बिल्डर और कॉलोनाइजर बता कर भोले भाले 12 लोगों से 44 लाख 71 हजार रुपए लेकर फरार हो गया उसका यह राज तब खुला जब लोगों ने उससे रजिस्ट्री करने की कही कई लोगों से आजकल कहते कहते कई दिन निकाल दीजिए लेकिन रजिस्ट्री नहीं की, तब जाकर खुद को बिल्डर और कालू नजर बताने वाले अखिलेश सक्सेना पर देहात थाने में केस दर्ज हुआ है।

बताया जा रहा है कि युवक ने खुद को कॉलोनाइजर बिल्डर बताकर शहर के एक दर्जन लोगों से 4 साल में 44 लाख 71 हजार रुपए की ठगी है। बताया यह भी जा रहा है कि युवक ने व्यावरा गांव से निटाया की ओर जाने वाली रोड पर 3 एकड़ जमीन पर कॉलोनी काटने के सपने दिखाए। यहां मंदिर का फोटो भी लगाया गया और उसका बाकायदा भूमि पूजन किया गया। जिसके चलते लोग झांसे में आ गए और प्लाट के लिए अनुबंध कर सक्सेना को रुपए दे दिए। वही काली नजर बताने वाला युवक रजिस्ट्री के लिए कहने पर हर बार टाल देता था। मालाखेड़ी निवासी अमित बोरिया ने शिकायत की जिसके बाद अन्य लोग सामने आए हैं जिनसे सक्सेना ने 44 लाख 71 हजार रुपए ठगे हैं।

ठगी के शिकार हुए-
अमित बोरिया-10/-लाख
संजय श्रीवास्तव- 5/-लाख
नवीन बोरिया-3 लाख 50 हजार
खिमन गिरी गोस्वामी- 8/-
कमलेश चारिया- 50 हजार
दिनेश श्रीवास्तव,- 2/-लाख
लक्ष्मीनारायण राठौर-70 हजार
संजीव दुबे-6/-लाख
चंद्रभान ठाकुर-2 लाख 50 हजार
शैलेश कटारे-1/- लाख
रोहित सक्सेना- 50 हजार
अरविंद कुमार-5/- लाख

सावधान सावधान सावधान

ऐसा ही एक और अन्य मामला शीघ्र ही सामने आ सकता है क्योंकि शहर का एक नामी बिल्डर जो अपने बेटों के माध्यम सेलोगों से बयाने के तौर पर तो पैसा ले लेता है लेकिन रजिस्ट्री करते  समय उसी जमीन को ऊंचे दामों मैं बेचने के लालच आ जाता है और पहले जिस से बयाना लिया जाता है उसके बयानों को वापस कर देता है और ऊंचे दामों पर किसी अन्य व्यक्तियों के नाम रजिस्ट्री कर देता है यह चर्चा पूरे शहर में आग की तरह फैल रही है बताया यह भी जा रहा है कि ऐसे कई पीड़ित धीरे-धीरे सामन आने लगे हैं जिन्होंने कॉलोनी में प्लाट लेने के लिए अपनी गाढ़ी कमाई के रुपए बिल्डर को दिए बिल्डर ने रसीद भी दी और कुछ को यह कहकर रसीद नहीं दी कि हम पर भरोसा नहीं है क्या …लोगों ने उस बिल्डर को पैसे भी दिए हैं और कुछ लोग रजिस्ट्री के लिए चक्कर काट रहे हैं तो कुछ लोगों को कुछ राशि वापस भी कर दी गई है लेकिन अब सभी खरीददार एक साथ थाने जाने की तैयारी में जुटे हुए हैं शीघ्र ही बड़ा मामला सामने आ सकता है और इस संबंध में लोगों का तो यह भी कहना है कि इस बिल्डर को उलझाने के लिए एक बहुत बड़ा परिवार भी तैयारी में जुटा हुआ हैअब देखते यह है कि क्या इमानदारी काम आती है या धन या लोगों की बद्दुआ ले डूबती है उस बिल्डर को

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *