Shri Prabhat Times

65 दिनों में होगी पूरी पदयात्रा ,मुलताई से सूरत तक का सफर

सीनियर रिपोर्टर अयूब खान

श्रीप्रभात  टाइम्स मुल्ताई ,ताप्ती पश्चिमी भारत की प्रसिद्ध नदी है। यह मध्य प्रदेश राज्य के बैतूल जिले के मुलताई से निकलकर सतपुड़ा पर्वतप्रक्षेपों के मध्य से पश्चिम की ओर बहती हुई महाराष्ट्र के खानदेश के पठार एवं सूरत के मैदान को पार करती है और गुजरात स्थित खम्भात की खाड़ी, अरब सागर में गिरती है। नदी का उद्गगम् स्थल मुल्ताई है  ,माता की सेवा समिति के सदस्यों द्वारा 14 जनवरी 2021 से मां ताप्ती की पदयात्रा मुलताई से सूरत तक निकाली जा रही है यह पदयात्रा 65 दिनों में पूरी होगी मुलताई पहुंचने पर  स्थानीय नागरिकों ने यात्रा का भव्य स्वागत किया गया है

ताप्ती नदी का धार्मिक महत्व

ताप्ती के गुणों के लिए समर्पित एक भारतीय पुराण है। यह ताप्ती नदी की गंगा सहित अन्य सभी नदियों की तुलना में पवित्र है। तापी पुराण में उल्लेख है कि किसी भी व्यक्ति को सभी पापों से मुक्ति दिलाई जा सकती है, यदि वह गंगा में स्नान करता है, नर्मदा को निहारता है और ताप्ती को याद करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *