Shri Prabhat Times

दिव्य ज्योति जाग्रति संस्थान द्वारा आयोजित सात दिवसीय श्री राम कथा का घर बैठे उठाएँ लाभ

श्री प्रभात टाइम्स 9 अक्टूबर 2021होशंगाबाद।   

(संतराम निसरेेले प्रधान संपादक mob 9407268810)

नवरात्रि जैसे पावन दिनों मे हर प्राणी मात्र के उद्धार के लिए लाए हैं दिव्य  ज्योति जाग्रति संस्थान द्वारा आयोजित सात दिवसीय श्री राम कथा का घर बैठे उठाएँ लाभ
भगवान राम सृष्टि के कण-कण में वास करते हैं और उनकी पावन कथा वर्तमान समय की हर समस्या का समग्र समाधान है। दिव्य ज्योति जाग्रति संस्थान के संस्थापक एवं संचालक – दिव्य गुरु श्री आशुतोष महाराज जी का कथन है – “श्री राम कथा सुनने का वास्तविक फल ये होता है कि आपको प्रभु श्री राम का प्रत्यक्ष दर्शन हो जाए।

समाज को श्री राम की ऐसी ही दिव्य कथा का रसपान कराने हेतु 09 से 15 अक्टूबर, 2021 तक दिव्य ज्योति जाग्रति संस्थान द्वारा श्री राम कथा का भव्य आयोजन किया जा रहा है। यह कथा मात्र श्री राम की कहानियों तक ही सीमित नहीं रहेगी बल्कि श्री राम के साक्षात्कार की शाश्वत विधि से भी सभी को परिचित भी कराएगी।

इस कार्यक्रम में विश्व भर से सभी श्रद्धालु सुविधाजनक रूप से उपस्थित हो पाएँ –इसलिए यह पावन कथा संस्थान के यूट्यूब चैनल– DJJS WORLD पर प्रात: 10 बजे से दोपहर 1 बजे तक और सायं 7 बजे से रात्रि 10 बजे तक प्रसारित की जा रही है।

कोविड महामारी के चलते फैली नकारात्मकता के बीच यह कथा जन मानस में दिव्यता व सकारात्मकता का संचार करने हेतु, संस्थान द्वारा आयोजित विलक्षण डिजिटल कथा महोत्सव – ब्रह्म एव शान्ति:ब्रह्म एव आनन्द: के अंतर्गत होने जा रही है; जिसका वाचन दिव्य गुरु श्री आशुतोष महाराज जी की शिष्या – विश्वविख्यात श्री राम कथाव्यास – साध्वी श्रेया भारती जी द्वारा किया जाएगा। साध्वी जी ने रामचरितमानस में वर्णित श्री राम की लीलाओं के पीछे छिपे गूढ़ आध्यात्मिक रहस्यों को उजागर करते हुए विश्व भर में असंख्य लोगों को शाश्वत भक्ति की ओर प्रेरित किया है।

इस विलक्षण डिजिटल कथा महोत्सव के बारे में अधिक जानकारी हेतु अवश्य विज़िट करें – www.djjs.org/kathaपर।

कथा के मुख्य आकर्षण कुछ इस प्रकार रहेंगे – भगवान राम का अवतरण क्यों है एक उत्सव? भीतर के रावण को कैसे मारा जाए? क्या है राम राज्य का वास्तविक अर्थ? क्या राम मात्र मानने का विषय है या जानने का भी?इत्यादि जैसे महत्वपूर्ण प्रश्नों के उदाहरण सहित समाधान, भगवान राम की लीलाओं का ज्ञानवर्धक विश्लेषण, दिव्य गुरु श्री आशुतोष महाराज जी के समर्पित युवा शिष्य-शिष्याओं द्वारा सुमधुर भजन कार्यक्रम,यजमानों द्वारा घर बैठे डिजिटल पूजन और प्रभु की पावन पुनीतआरती।

भगवान राम सम्पूर्ण मानव जाति के लिए एक आदर्श हैं। हम भी अपने जीवन में उनके गुणों को धारण कर सकें – यही इस आगामी कथा का औचित्य है।

नियमित रूप से आध्यात्मिक व प्रेरणादायी विचारों से जुड़े रहने हेतु DJJS के यूट्यूब चैनल को अभी सब्सक्राइब करें – http://www.youtube.com/djjsworld और सूचनाओं के लिए घंटी के चिन्ह को दबाएँ।

दिव्य ज्योति जाग्रति संस्थान, विश्व में शांति एवं बंधुत्व की स्थापना हेतु कार्यरत एक सामाजिक व आध्यात्मिक संस्थान है; जो अपने नौ मुख्य प्रकल्पों द्वारा समाज में व्यापक परिवर्तन ला रहा है। ये नौ प्रकल्प हैं – महिला सशक्तिकरण कार्यक्रम; साक्षरता अभियान; सम्पूर्ण स्वास्थ्य कार्यक्रम; नशा उन्मूलन कार्यक्रम; पर्यावरण संरक्षण कार्यक्रम; भारतीय देसी गौ संवर्धन एवं नस्ल सुधार कार्यक्रम; आपदा प्रबंधन कार्यक्रम; बंदी सुधार कार्यक्रम और नेत्रहीन एवं दिव्यांगों का सशक्तिकरण कार्यक्रम।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *