Shri Prabhat Times

श्री प्रभात टाइम्स 3 जनवरी 2021 होशंगाबाद

प्रत्येक भारत वासियों के लिए गौरव का दिन है कि जो सपने भारत वासियों ने कई वर्षों पूर्व देखे थे आज वह पूर्ण होने जा रहे हैं और ऐसे पावन कार्य में विश्वव हिन्दू परिषद(VHP)जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट को समाज में मौर्दिक प्रसाद एकत्र करने के लिए सभी सहयोग का विस्तार करने का संकल्प लिया है। प्रारंभ में विहिप ने अयोध्या में श्री राम जन्मभूमि मंदिर और अन्य सुविधाओं के निर्माण में उनके योगदान के लिए कुछ 4 लाख गावों और 11 करोड़ परिवार तक पहुंचने का लक्ष्य रखा था। हालांकि देश के राज्यों और जिलों में पहले दौर की बैठक के बाद अब यह प्रतीत होता है कि हम 5.25 लाख गांव और लगभग 13 करोड परिवार यानी भारत की 65 करोड़ आबादी तक पहुंचने में सक्षम होगें। इस प्रकार यह निश्चित रूप से दुनिया के इतिहास में सबसे बड़ा अभियान होगा राम मंदिर के निर्माण के सामाजिक-धार्मिक कारणों से और रामराज्य की ओर मार्च करने के लिए गांवों परिवारों और लोगों की सबसे बड़ी संख्या तक पहुंचने के लिए पुनः निर्माण का अभियान है।

मध्य भारत प्रांत में विश्व हिंदू परिषद 14000 से अधिक गांवों तक पहुंचने की उम्मीद है और कुछ 2 करोड़ भक्त मंदिर के लिए अपनी ओर से निधि समर्पण एवं अन्य शारीरिक श्रमदान के माध्यम से योगदान देने जा रहे हैं इसके साथ ही बड़े स्तर पर एक माह तक अपने परिवार से दूर रहते हुए प्रभु श्री राम के भव्य मंदिर निर्माण हेतु सैकड़ों की संख्या में राम भक्त जन जागरण के कार्य में जुट गए हैं

मध्य भारत प्रांत में दो करोड़ लोगों से संपर्क का और निधि संपन्न के अभियान से लोगों को जोड़ने का लक्ष्य रखा गया है

होशंगाबाद नर्मदा पुरम जिले में 980 गांव है जिनमें से 700 गांव में संपर्क होगा ऐसे ही 8 नगरों की सभी बस्तियों में संपर्क होगा कुल 125 टोलिया

जिनमें एक टोली में पांच कार्य का कार्य करता हूं तथा इस संपूर्ण अभियान में 15 से 30 दिन के समय दानी कार्यकर्ताओं के माध्यम से डेढ़ लाख परिवार के लगभग 700000 लोगों से संपर्क कर उन्हें निधि समर्पण अभियान से जोड़ने का लक्ष्य रहेगा रुपए का संग्रह विभिन्न मूल्य वर्गों में मुद्रित कूपन द्वारा किया जाएगा जैसे रुपए 10 और हजारों रुपए के रूप में दान दो हजार या अधिक राशि रसीद के माध्यम से प्राप्त की जाएगी और

दानदाता को आयकर अधिनियम की धारा 80 जी का लाभ भी इसमें मिलेगा

संग्रह टोलियां प्रत्येक 5 स्वयंसेवकों की होंगी वह एक जमा करता को रिपोर्ट करेंगे सभी संग्रह 48 घंटे के भीतर तीर्थ क्षेत्र के बैंक खाते में जमा किए जाएंगे प्रत्येक जमा करता के पास भारतीय स्टेट बैंक बैंक ऑफ बड़ौदा और पंजाब नेशनल बैंक के तीन बैंकों में से एक का निकटतम शाखा में एक पंजीकृत कोड नंबर होगा यहां निधि संग्रह में पूरी पारदर्शिता रखे जाने की व्यवस्था सुनिश्चित की गई है।

मंदिर के निर्माण में

प्रभु श्री राम के मंदिर निर्माण के लिए टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज के इंजीनियर होंगे लार्सन एंड टुब्रो मंदिर निर्माण के लिए लगे हुए होंगे फाउंडेशन ड्राइंग पर आईआईटी मुंबई आईआईटी दिल्ली, आईआईटी चेन्नई, आईआईटी गुवाहाटी, सीबीआरआई रुड़की लार्सन एंड टुब्रो के इंजीनियर काम कर रहे हैं पूरा मंदिर पत्थरों के ब्लॉक का होगा।

मंदिर का क्षेत्रफल
मंदिर का कुल क्षेत्रफल 2.7 एकड़ होगा निर्माण क्षेत्र 57400 वर्ग फुट है मंदिर की लंबाई 235 फीट के साथ 360 फीट होगी मंदिर तीन मंजिला संरचना और पांच मंडप के साथ होगा ग्राउंड फ्लोर पर कॉलम की संख्या 160 फर्स्ट फ्लोर पर 132 और सेकंड फ्लोर पर 74 होगी।
उम्मीद है कि 2024 तक श्री राम लला भव्य मूर्ति मुख्य मंदिर के गर्भगृह में स्थापित हो जाएगी और भक्तों को भगवान के इस भव्य मंदिर में दर्शन करने के लिए आमंत्रित किया जा सकेगा मंदिर के साथ-साथ अंतरराष्ट्रीय मानकों के अनुरूप भक्तों एवं शोधार्थियों के लिए

पुस्तकालय, अभिलेखागार, संग्रहालय, अनुसंधान केंद्र, यज्ञशाला, वेद पाठशाला, सत्संग भवन, प्रसाद वितरण, केंद्र रंगभूमि, धर्मशाला, प्रदर्शनी और अन्य सुविधाएं भी रहेंगी।

विहिप का मानना है कि यह केवल मंदिर निर्माण के लिए किया जा रहा है प्रयत्न या एक आंदोलन नहीं है बल्कि संपूर्ण हिंदू समाज के कायाकल्प का एक सचेत प्रयास है, जो समाज को अपनी बीमारियों, जैसे उच्चे और निम्नर गरीबी, स्वा स्थि, शिक्षा और कौशलकी कमियों को दूर करने के‍ लिये प्रेरित करेगा।

महिलाओं की गरिमा को बहाल करने के लिये दुनिया से आतंकवाद के संकट को मिटाने के लिए और

सर्वे भवंतू सुखिना: के वैदिक लक्ष्यों को अनुभूत करने के लिए सभी खुश हो सकते हैं सभी स्वस्थ हो सकते हैं सभी भेदभाव मिटाकर बुद्धिमान हो सकते हैं और किसी को भी दुखों से पीड़ित नहीं होने दिया जाएगा इस विचार और सोच के साथ प्रभु के इस भव्य मंदिर का निर्माण कार्य संपन्न होने जा रहा है विहिप इसे हिंदुओं और विश्व मिशन मान्यता है और इससे प्राप्त करने के लिए पूर्ण तरह आश्वस्त है यह संपूर्ण जानकारी प्रेस कॉन्फस के माध्यम से ओमप्रकाश सिसोदिया राम जन्मभूमि तीर्थ अभियान प्रभारी ने दी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *