व्यायाम शिक्षक कलीराम अहिरवार ने अपने वेतन से 20 निर्धन छात्र छात्राओं को निशुल्क बाटी गणवेश, 

व्यायाम शिक्षक कलीराम अहिरवार ने अपने वेतन से 20 निर्धन छात्र छात्राओं को निशुल्क बाटी गणवेश, 

एसपीटी न्यूज नर्मदापुरम

व्यायाम शिक्षक कलीराम अहिरवार ने अपने वेतन से 20 निर्धन छात्र छात्राओं को निशुल्क बाटी गणवेश, 
पूरे ब्रह्मांड में यह बात तो सभी जानते हैं कि हर प्राणी के जन्मदाता उसके माता-पिता हैं लेकिन उससे भी बड़ी भूमिका निभाते  हैं शिक्षक (गुरु )जो उसके भविष्य का निर्माण करते  है  यदि किसी छात्र छात्राओं के भविष्य मैं यदि कोई सच्ची भूमिका होती है तो वह भूमिका होती है गुरु की शिक्षकों की लेकिन देखा यह भी गया है कि संसाधनों के अभाव में कई की जिंदगी बिखर जाती हैं तो वही संसाधनों की सुविधा के कारण जिंदगी संवर जाती है
 की जिंदगी सभर  जाती हैं , बस समय पर सही मदद मिल जाए यही विचार एक शिक्षक के मन में आया कि काश जिन छात्र छात्राओं के पास गणवेश नहीं है यदि मैं उनको अपने वेतन से गणवेश उपलब्ध करा दूं तो उन्हें स्कूल आने में कोई झंझट नहीं रहेगी और एक व्यायाम शिक्षक ने 20 निर्धन छात्र छात्राओं के लिए शाला परिवार में निशुल्क गणवेश उपलब्ध करा दी यह बात है
शासक कन्या उ.मा. विद्यालय  बनखेड़ी में पदस्थ व्यायाम शिक्षक कलीराम अहिरवार  की है

श्री अहिरवार बनखेड़ी विकास खण्ड के खेल अधिकारी हैं। उनका जन्म ग्रामपंचायत कन्हवार तह पिपरिया जिला - नर्मदापुरम के एक छोटे से किसान परिवार में हुआ, उन्होने बताया कि गरीबों की सहायता करने का श्रव्य  माता-पिता एवं कुलगुरू संत शिरोमणि रविदास जी को जाता है। हमारी एक छोटी सी सहायता से किसी निर्धन छात्र-छात्राओं का भला हो एवं आगे की पढ़ाई हो सके इससे बड़ा कोई कार्य नहीं इस अवसर पर संस्था के प्राचार्य पीडी शर्मा  एवं समस्त शाला परिवार ने व्यायाम शिक्षक के इस कार्य की जमकर प्रशंसा की,